Home देश-दुनिया संरा महासभा ने आईएसए को पर्यवेक्षक का दर्जा दिया , भारत ने कहा- ‘ऐतिहासिक निर्णय’

संरा महासभा ने आईएसए को पर्यवेक्षक का दर्जा दिया , भारत ने कहा- ‘ऐतिहासिक निर्णय’

न्यूयॉर्क/नई दिल्ली, 10 दिसंबर (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने भारत की ओर शुरू की गयी पहल अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) को पर्यवेक्षक का दर्जा दिया है।
संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने इसे एक ऐतिहासिक निर्णय करार दिया और कहा कि आईएसए सकारात्मक वैश्विक जलवायु कार्रवाई का एक उदाहरण बन गया है।
श्री तिरूमूर्ति ने ट्वीट किया , “ अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन को पर्यवेक्षक का दर्जा देने के लिए संयुक्त राष्ट्र महासभा का निर्णय ऐतिहासिक। छह वर्षों में,आईएसए वैश्विक ऊर्जा वृद्धि और विकास को लाभ पहुंचाने के लिए साझेदारी के माध्यम से सकारात्मक वैश्विक जलवायु कार्रवाई का उदाहरण बन गया है। सभी सदस्य देशों को धन्यवाद।”
संरा महासभा अध्यक्ष एवं मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने आईएसए को पर्यवेक्षक का दर्जा दिए जाने पर बधाई दी है।
उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के तत्कालीन राष्ट्रपति फ्रांसुवा ओलांद ने नवंबर-2015 में पेरिस में संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन के 21वें सत्र (सीओपी-21) में आईएसए के शुभारंभ की घोषणा की थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

शी चिनफिंग ने हांगकांग के लिए ‘‘एक देश, दो प्रणाली’’ नीति का किया बचाव

हांगकांग, 01 जुलाई (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने हांगकांग के लि…