Home खेल मैंने सोचा अगर न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत की बात करूंगा तो लोग मुझे ‘पागल’ कहेंगे: मोमिनुल
खेल - January 6, 2022

मैंने सोचा अगर न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत की बात करूंगा तो लोग मुझे ‘पागल’ कहेंगे: मोमिनुल

माउंट मोनगानुई (न्यूजीलैंड), 05 जनवरी (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक ने कहा कि वह सोचते थे कि अगर उन्होंने अपनी टीम के न्यूजीलैंड में जीत दर्ज करने की इच्छा के बारे में जिक्र भी किया तो उन पर ‘पागल होने का ठप्पा’ लगा दिया जायेगा।

इसलिये जब बांग्लादेश ने बुधवार को यहां बे ओवल में अपनी सबसे बड़ी टेस्ट जीत में से एक हासिल की तो उनसे जब इस क्षण के बारे में पूछा गया तब उनके पास बयां करने के लिये शब्द नहीं थे और यह बिलकुल भी हैरानी भरा नहीं था।

चैथे दिन का खेल समाप्त होने के बाद जब मेहमान टीम सोने के लिये गयी तो मोमिनुल सो नहीं सके।

मोमिनुल ने अपनी टीम की आठ विकेट की जीत के बाद पत्रकारों से कहा, ‘‘मैं इसे बयां नहीं कर सकता, यह अविश्वसनीय है। मैं दबाव के कारण कल सो नहीं सका। ‘‘

उन्होंने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो हमने टेस्ट मैच जीतने के बारे में बिलकुल भी नहीं सोचा था। अगर मैं कहता कि हम जीत का लक्ष्य बनाये हैं तो लोग मुझ पर पागल होने का ठप्पा लगा देते। हमारा लक्ष्य अच्छी तैयारी करके मैच के अनुसार खेलना था। ‘‘

वहीं टॉम लैथम के लिये यह हैरानी भरा था कि मेहमानों ने ऐसा जज्बा दिखाया।

बांग्लादेश के लिये इबादत हुसैन ने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 46 रन देकर छह विकेट झटके जिससे टीम विश्व टेस्ट चैम्पियन न्यूजीलैंड के खिलाफ उसकी सरजमीं पर पहली जीत दर्ज करने में सफल रही।

मोमिनुल ने कहा, ‘‘मैंने गेंदबाजों से कहा कि हमें उसी तरह गेंदबाजी करनी होगी जैसी हमने चैथे दिन की थी, हम विकेटों के पीछे नहीं भागेंगे। आप कह सकते हो कि अगर हम विकेट लेने के बारे में नहीं सोचेंगे तो हम उन्हें आउट कैसे करेंगे? ‘‘

उन्होंने कहा, ‘‘योजना थी कि हम विकेट चटकाने के चक्कर में रन नहीं देंगे। हम सिर्फ उन पर दबाव बनाना चाहते थे और अगर नतीजा आता है तो अच्छा है। ‘‘

यादगार जीत के लिये 40 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश ने दो विकेट गंवा दिये। मोमिनुल और पूर्व कप्तान मुश्फिकर रहमान ने टीम को जीत तक पहुंचाया।

उन्होंने कहा, ‘‘इस टेस्ट मैच को जीतना बहुत महत्वपूर्ण था। दो साल पहले हमने इतना टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला था इसलिये हम सुधार के लिये प्रतिबद्ध थे। ‘‘

मोमिनुल ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह पूरी टीम का प्रदर्शन था, हमने सभी तीनों विभागों में अच्छा प्रदर्शन किया। हमारे गेंदबाजों ने नमी का अच्छा इस्तेमाल किया और बल्लेबाजों ने भी वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया। मैंने पहले कहा था कि हमें अपनी विरासत के लिये इन टेस्ट मैचों को जीतने की जरूरत है। ‘‘

उन्होंने कहा, ‘‘हमने टेस्ट मैचों के नतीजों पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया बल्कि हमने प्रक्रिया पर ध्यान देने का प्रयत्न किया। ‘‘

दो मैचों की श्रृंखला का दूसरा टेस्ट नौ से 13 जनवरी तक क्राइस्टचर्च के हेगले ओवल में खेला जायेगा और घरेलू टीम बराबरी करने के लिये बेताब होगी।

मैच में न्यूजीलैंड की अगुआई करने वाले लैथम ने इस हार के बाद टीम के दो मौके गंवाने से काफी निराश थे।

उन्होंने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि वह बांग्लादेश के प्रदर्शन से काफी हैरान थे।

लाथम ने कहा, ‘‘दोनों (उनकी गेंदबाजी और बल्लेबाजी) ने हैरान किया, वे लंबे समय तक बल्लेबाजी करने में सफल रहे और साथ ही गेंद से भी उन्होंने अच्छा काम किया। यह जुनूनी प्रदर्शन था। उन्होंने मैच में हर मौके का फायदा उठाया। ‘

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

सर्राफा बाजार में मामूली गिरावट, सोना और चांदी की घटी कीमत

नई दिल्ली, 22 जुलाई (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। बजट के एक दिन पहले घरेलू सर्राफा बाजार में …