Home देश-दुनिया राजपथ पर पहली बार होगा आईटीबीपी मोटरसाइकिल सवारों का जांबाज प्रदर्शन

राजपथ पर पहली बार होगा आईटीबीपी मोटरसाइकिल सवारों का जांबाज प्रदर्शन

नई दिल्ली, 19 जनवरी (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। देश की राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं। समारोह के पहले परेड की रिहर्सल जारी है। कोरोना के साये में होने वाला इस बार का गणतंत्र दिवस कई मायनों में खास होगा। इस बार भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की जांबाज मोटर साइकिल टीम द्वारा प्रदर्शन किया जाएगा। इसमें बल के मोटर साइकिल सवारों की जांबाज टीम द्वारा कुल 10 प्रकार के फार्मेशन दिखाए जाएंगे। इसके लिए आईटीबीपी की जांबाज टीम रोजाना राजपथ पर कठिन अभ्यास में जुटी है। जानकारी के अनुसार, आईटीबीपी की जाबांज टीम द्वारा इन प्रदर्शनों में लोटस फॉर्मेशन, बॉर्डर मैन सैल्यूट, फ्लाई राइडिंग, पवन चक्की, होरीजोंटल बार एक्सरसाइज, सिक्स मैन बैलेंस, ऐरो पोजीशन, जैगुआर पोजीशन, हिमालय के प्रहरी और भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ ‘आजादी के अमृत महोत्सव की थीम’ पर आधारित पिरामिड फॉर्मेशन प्रमुख हैं। इस प्रदर्शन में आईटीबीपी के कुल 146 हिमवीर 33 बुलेट मोटर साइकिल के साथ हिस्सा लेंगे। ये पहला मौका है जब आईटीबीपी के मोटर साइकिल सवार राजपथ पर अपने हुनर का प्रदर्शन करेंगे।

गणतंत्र दिवस समारोह के लिए परेड कि रिहर्सल जारी है। बुधवार को आईटीबीपी के बहादुर जवानों ने अभ्यास के दौरान हैरतअंगेज करतब दिखाया। ट्विटर पर राजपथ से एक वीडियो सामने आया जिसमें भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवान जिस बहादुरी और तालमेल से परेड की रर्हिसल में जुटे हैं, उसे देखकर न केवल हैरानी होती है, बल्कि हर भारतीय का सीना गर्व से चैड़ा हो जाता है। आपको बता दें कि, आईटीबीपी के जाबांज मोटरसाइकिल टीम का गठन 2017 में हुआ था। वहीं भारत-चीन की सुरक्षा में तैनात आईटीबीपी का गठन 1962 में हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

ब्रिटेन की नयी प्रधानमंत्री ने संरा में अपने पहले संबोधन में पुतिन की आलोचना की

संयुक्त राष्ट्र, 22 सितंबर (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री लिज ट्रस ने …