Home अंतरराष्ट्रीय रूस यूक्रेन के पूर्वी हिस्से पर नए सिरे से हमले की तैयारी कर रहा है

रूस यूक्रेन के पूर्वी हिस्से पर नए सिरे से हमले की तैयारी कर रहा है

कीव, 07 अप्रैल (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। रूस ने यूक्रेन की राजधानी कीव के बाहरी इलाकों से तो अपनी फौज हटा ली है लेकिन वह पूर्वी हिस्से डोनबास पर हमले तेज़ करने की तैयारी कर रहा है। अधिकारियों ने क्षेत्र के लोगों से जल्द जल्द वहां से निकल जाने को कहा है।

दक्षिणी बंदरगाह शहर मारियुपोल के मेयर ने बुधवार को कहा कि वहां पांच हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। इस बीच राजधानी के उत्तरी इलाकों में यूक्रेन के अधिकारी रूस के जुल्मों के सबूत इकट्ठे कर रहे हैं जहां इस तरह के संकेत मिले हैं कि मॉस्को के सैनिकों ने जाते वक्त पिछले कई दिनों में लोगों की हत्याएं की हैं।

रात में अपने संबोधन में यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की ने आगाह किया कि रूस की सेना पूर्वी हिस्से में नए सिरे से हमला करने की तैयारी कर रही है। क्रेमलिन ने कहा है कि उसका लक्ष्य डोनबास को ‘मुक्त’ कराना है।ज़ेलेंस्की ने कहा कि यूक्रेन भी लड़ाई के लिए तैयारी कर रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम लड़ेंगे और हम पीछे नहीं हटेंगे। हम तब तक खुद की रक्षा करने के लिए हर मुमकिन विकल्प अपनाएंगे जबतक रूस संजीदगी से शांति की कोशिश शुरू नहीं करता।”

राष्ट्रपति ने कहा, “यह हमारी भूमि है। यह हम उनके लिए नहीं छोड़ेंगे।”

यूक्रेन के अधिकारियों ने डोनबास में रहने वाले लोगों से तुरंत वहां से निकल जाने को कहा है।

उप प्रधानमंत्री इरयाना वेरेशचुक ने कहा, ‘‘बाद में लोग मुसीबत में आ जाएंगे और हम उनकी मदद के लिए कुछ नहीं कर सकेंगे।”

अमेरिका के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि रूस ने उत्तर में कीव और चेर्नीहीव से अनुमानित तौर पर 24000 सैनिकों में से करीब-करीब सबको हटा लिया है और उन्हें बेलारूस या रूस भेज रहा है ताकि उन्हें फिर से संगठित करके पूर्वी क्षेत्र में लड़ने के लिए भेजा जा सके।

लेकिन एक पश्चिमी अधिकारी ने खुफिया आकलन पर चर्चा करते हुए बताया कि रूस की लड़ाई में क्षतिग्रस्त हुई सेना को फिर से संगठित होने और पूर्वी यूक्रेन पर चढ़ाई करने में एक महीने तक का वक्त लग सकता है।

इस बीच अमेरिका और उसके पश्चिमी सहयोगियों ने कथित युद्ध अपराधों को लेकर क्रेमलिन पर नए प्रतिबंध लगाए हैं।

मारियुपोल के मेयर वदीम बायोचेन्को ने बताया कि रूस की बमबारी और अन्य लड़ाई में पांच हज़ार से ज्यादा आम लोगों की मौत हुई है जिनमें 210 बच्चे शामिल हैं।

उन्होंने यह भी दावा किया कि रूसी बलों ने अस्पतालों पर बमबारी की है जिससे एक अस्पताल में 50 लोगों की मौत जलने से हो गई।

बायोचेन्को ने बताया कि शहर का 90 फीसदी से ज्यादा बुनियादी ढांचा तबाह हो चुका है।

आज़ोव सागर के सामरिक शहर पर हमला करने से खाना, पानी, ईंधन और दवाएं खत्म हो गईं तथा घर-दुकानें तबाह हो गईं।

ब्रिटिश रक्षा अधिकारियों ने बताया कि शहर में 1.6 लाख लोग अब भी फंसे हुए हैं। रेड क्रॉस कुछ दिनों से शहर में मानवीय सहायता पहुंचाने की कोशिश कर रहा है लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली।

बहरहाल, उत्तर में, यूक्रेन के अधिकारियों ने कहा कि कीव के आसपास के नगरों में 410 आम नागरिकों के शव मिले हैं। ज़ेलेंस्की ने इसे रूस का हत्या, बलात्कार और प्रताड़ना का अभियान बताया है।

बुधवार की रात अपने संबोधन में ज़ेलेंस्की ने रूस पर कीव के उत्तर-पश्चिम में स्थित बुचा से शवों को हटाकर और सबूत छुपाने की कोशिश करके संभावित युद्ध अपराधों की अंतरराष्ट्रीय जांच में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास सूचना है कि रूस ने अपने तौर तरीकों में बदलाव किया है और वह मृत लोगों, मृत यूक्रेनियों को सड़कों और उन क्षेत्रों से हटा रहे हैं जो उन्होंने कब्जाए हैं।”

राष्ट्रपति के मुताबिक, “यह सिर्फ सबूत छुपाने की कोशिश से ज्यादा कुछ नहीं है।”

ज़ेलेंस्की ने सामान्य रूसियों से आग्रह किया कि वे किसी तरह रूसी दमनकारी मशीन का सामना करें बजाय इसके कि उन्हें शेष जीवन के लिए नाजियों के समान ठहराया जाता रहे।

उन्होंने रूसियों से कहा कि ‘रूस यूक्रेन में जो कर रहा है, उसे लेकर थोड़ी भी शर्म है तो’ इस युद्ध को खत्म करने की मांग करें।

अमेरिका ने यूक्रेन में युद्ध अपराधों की जवाबी कार्रवाई के तहत बुधवार को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की दो बेटियों को निशाना बनाते हुए पाबंदियां लगाए जाने की घोषणा की। साथ में रूसी बैंकों पर पाबंदियां कड़ी कर दीं। ब्रिटेन ने भी रूस में निवेश प्रतिबंधित कर दिया और साल के आखिर तक रूस के कोयले और गैस पर निर्भरता कम करने का संकल्प लिया है।

अमेरिकी सीनेट रूस के साथ सामान्य व्यापार संबंधों को खत्म करने और उससे तेल आयात पर प्रतिबंध लगाने से संबंधित एक विधेयक पर बृहस्पतिवार को चर्चा करेगी।

यूरोपीय संघ भी रूसी कोयले पर प्रतिबंध लगाने सहित अतिरिक्त दंडात्मक उपाय कर सकता है।

क्रेमलिन ने जोर देकर कहा है कि उसके सैनिकों ने कोई युद्ध अपराध नहीं किया है और आरोप लगाया है कि बुचा से आ रही तस्वीरें यूक्रेन के लोगों ने ही तैयार की हैं।

पुलिस ने कहा कि उन्हें कीव के पश्चिम में मकारिव इलाके से कम से कम 20 शव मिले। एंड्रीवका गांव में, निवासियों ने कहा कि रूसी मार्च की शुरुआत में पहुंचे और स्थानीय लोगों के फोन ले लिए। कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया, फिर छोड़ दिया गया। अन्य के साथ पता नहीं क्या हुआ।

यूक्रेन डोनबास में 2014 से रूस समर्थित अलगावादियों की लड़ाई का सामना कर रहा है। 24 फरवरी को यूक्रेन पर हमले से पहले रूस ने लुहांस्क और डोनेत्सक क्षेत्रों को स्वतंत्र राष्ट्रों के तौर पर मान्यता दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

चीन का अंतरिक्ष यान चंद्रमा के सुदूर हिस्से से नमूने लेकर पृथ्वी पर लौटा

बीजिंग, 25 जून (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। चीन का चांग’ए 6 अंतरिक्ष यान पहली बार चंद्रमा के…