Home अंतरराष्ट्रीय विवादास्पद टिप्पणी के बाद केटी हॉपकिन्स को ऑस्ट्रेलिया से वापस भेजा जाएगा

विवादास्पद टिप्पणी के बाद केटी हॉपकिन्स को ऑस्ट्रेलिया से वापस भेजा जाएगा

कैनबरा, 19 जुलाई (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। ब्रिटेन की धुर दक्षिणपंथी राजनीतिक विश्लेषक केटी हॉपकिन्स को ऑस्ट्रेलिया से वापस भेजा जाएगा क्योंकि उन्होंने सोशल मीडिया पर कहा था कि वह देश के पृथक-वास नियमों को तोड़ना चाहती हैं। एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

हॉपकिन्स एक रियलिटी टेलीविजन कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए ऑस्ट्रेलिया आयी हैं और शूटिंग शुरू होने से पहले सिडनी में 14 दिन के अनिवार्य पृथक-वास में हैं। होटल के पृथक-वास से कोरोना वायरस संक्रमण नहीं फैले इसलिए ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने प्रत्येक सप्ताह देश आने वाले नागरिकों और स्थायी निवासियों की संख्या आधी कर दी है। करीब 34,000 ऑस्ट्रेलियाई देश आने के इच्छुक हैं लेकिन फिलहाल अन्य स्थानों पर रहने को मजबूर हैं।

ऑस्ट्रेलिया के दो बड़े शहरों सिडनी और मेलबर्न में कोरोना वायरस के डेल्टा स्वरूप के कारण महामारी फैलने की आशंका के मद्देनजर लॉकडाउन लगाया गया है।

गृह मंत्री कैरेन एंड्रयूज ने कहा कि हॉपकिन्स ने इंस्टाग्राम पर पृथक-वास का नियम तोड़ने की अपनी मंशा जाहिर की है इसलिए उन्हें देश से वापस भेजा जाएगा। एंड्रयूज ने ऑस्ट्रेलियन ब्रॉडकांस्टिंग कॉरपोरेशन (एबीसी) को बताया, ‘‘यह हैरानी की बात है कि उन्होंने इस तरह की बात कही। उन्हें यहां से जाना होगा। हम जल्द से जल्द उन्हें देश से भेजने की व्यवस्था करेंगे।’’

हॉपकिन्स अपने मुस्लिम विरोधी बयानों को लेकर सुर्खियों में रही हैं और उन्होंने महामारी के दौरान लॉकडाउन को ‘‘मानव इतिहास का सबसे बड़ा छल’’ बताया है। हॉपकिन्स ‘बिग ब्रदर वीआईपी’ कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आई थीं जिसके निर्माताओं सेवेन नेटवर्क और एंडेमॉल शाइन ऑस्ट्रेलिया ने रविवार को कहा कि उनके अनुबंध को रद्द कर दिया गया है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बंबई उच्च न्यायालय ने डॉक्टर के खिलाफ दुष्कर्म का मामला खारिज किया

मुंबई, 14 फरवरी (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। बंबई उच्च न्यायालय ने शिकायतकर्ता की सहमति से ए…