Home व्यापार आरबीआई सरकारी प्रतिभूति अधिग्रहण कार्यक्रम के जरिए 50,000 करोड़ रुपये नकदी डालेगा
व्यापार - August 6, 2021

आरबीआई सरकारी प्रतिभूति अधिग्रहण कार्यक्रम के जरिए 50,000 करोड़ रुपये नकदी डालेगा

मुंबई, 06 अगस्त (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। भारतीय रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को कहा कि बांड प्रतिफल को स्थिर और व्यवस्थित रखने के प्रयास के तहत वह इस महीने द्वितीयक बाजार सरकारी प्रतिभूति अधिग्रहण कार्यक्रम (जी-सैप) 2.0 के तहत दो चरणों में 50,000 करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियों की खरीद करेगा।

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने द्विमासिक मौद्रिक नीति की घोषणा करते हुए कहा, ‘‘सभी प्रकार की परिपक्वता वाली प्रतिभूतियों पर केंद्रित हमारी हालिया जी-सैप नीलामी का उद्देश्य सभी खंडों में व्यवस्थित बांड प्रतिफल के बीच संतोषजनक नकदी स्थिति सुनिश्चित करना है।’’

उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक का द्वितीयक बाजार सरकारी प्रतिभूति अधिग्रहण कार्यक्रम (सी-सैप) बाजार प्रतिभागियों से मिली जोरदार प्रतिक्रिया के साथ प्रतिफल अपेक्षाओं को स्थिर करने में सफल रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम 12 अगस्त और 26 अगस्त 2021 को जी-सैप 2.0 के तहत 25,000 करोड़ रुपये की दो और नीलामी करने का प्रस्ताव करते हैं। हम इन नीलामियों और अन्य उपायों जैसे खुले बाजार के परिचालन (ओएमओ) और ऑपरेशन ट्विस्ट (ओटी) को जारी रखेंगे।’’

रिजर्व बैंक छह फरवरी 2020 को घोषित संशोधित नकदी प्रबंधन ढांचे के तहत अपने मुख्य नकदी संचालन के रूप में 14-दिवसीय परिवर्तनीय दर रिवर्स रेपो (वीआरआरआर) नीलामी आयोजित कर रहा है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

‘गाजा में बड़ी संख्या में फिलिस्तीनियों का मारा जान चिंताजनक’

जिनेवा, 12 अगस्त (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचे…