Home अंतरराष्ट्रीय अमेरिका राजनीतिक एवं सुरक्षा माध्यमों से प्रतिदिन तालिबान से बात कर रहा हैः एनएसए

अमेरिका राजनीतिक एवं सुरक्षा माध्यमों से प्रतिदिन तालिबान से बात कर रहा हैः एनएसए

वाशिंगटन, 24 अगस्त (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। अमेरिका राजनीतिक एवं सुरक्षा माध्यमों से प्रतिदिन तालिबान से बात कर रहा है और साथ ही वह अफगानिस्तान के काबुल हवाईअड्डे पर चल रहे निकासी अभियान के संबंध में अपने सहयोगियों तथा साझेदारों से भी विचार-विमर्श कर रहा है।

अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) जेक सुलीवन ने सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने साथ ही कहा कि अमेरिका तालिबान पर भरोसा नहीं करता है।

सुलीवन ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा,’’ हम राजनीतिक एवं सुरक्षा दोनों ही माध्यमों से प्रतिदिन तालिबान से बातचीत कर रहे हैं। मैं सुरक्षा के लिहाज से उन बातचीत का ब्योरा यहां नहीं दूंगा। अनेक मुद्दों पर बातचीत चल रही है।’’

यह पूछे जाने पर कि क्या अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के तालिबानी नेतृत्व से बात करने की संभावना है। इस पर सुलीवन ने कहा, ‘‘ अभी इस संबंध में कोई विचार नहीं किया गया है।’’

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने कहा कि अमेरिका लोगों को सुरक्षित निकालने और इसमें हो रही प्रगति के बारे में अपने सहयोगियों तथा साझेदारों से बातचीत कर रहा है। उन्होंने कहा,’’ हम प्रतिदिन इस पर गौर कर रहे हैं और हमारा मानना है कि हमने इसमे काफी प्रगति की है।’’

सुलीवन ने कहा कि काबुल में इस वक्त क्या चल रहा है और हवाईअड्डे पर क्या परिस्थितियां हैं, इसके अलावा अमेरिकी नागरिकों, अन्य देशों के नागरिकों को हवाईअड्डे तक सुरक्षित पहुंचाना सुनिश्चित करने सहित सभी पहलुओं पर तालिबान के साथ विचार-विमर्श किया जा रहा है।

एक प्रश्न के उत्तर में सुलीवन ने दोहराया कि अमेरिका तालिबान पर भरोसा नहीं करता है। उन्होंने कहा,’’ तालिबान के बारे में राष्ट्रपति के विचार एकदम स्पष्ट है। आपने उनसे कई बार पूछा है कि क्या आप उन पर भरोसा करते हैं? और उन्होंने लगातार यही जवाब दिया है कि ‘नहीं, मैं नहीं करता’ यकीनन वह नहीं करते।’’

वहीं, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने विदेश मंत्रालय में पत्रकारों से कहा कि अफगानिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि जलमय खलीलजाद और उनका दल तालिबान तथा तालिबान नेतृत्व के साथ संपर्क में है।

प्राइस ने कहा,’’ हम तालिबान के साथ अंतर-अफगान बातचीत में शामिल सभी अहम पक्षकारों, व्यक्तियों के संपर्क में हैं। लेकिन हम अभी उन बातचीत के बारे में नहीं बता सकते। ‘‘

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

थायराइड भी हो सकता है थकान का कारण

-: ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस :- क्या आपके साथ भी एसे होता है कि आप सारा दिन काम करते करते इत…