Home लेख कोविड काल में कोरोना गाइड लाइन के साथ चुनाव घोषणा
लेख - January 11, 2022

कोविड काल में कोरोना गाइड लाइन के साथ चुनाव घोषणा

-डॉ. भरत मिश्र प्राची-

-: ऐजेंसी अशोक एक्सप्रेस :-

देश के हर कोने से फिर से कोरोना बढ़ने की खबर आ रही है, इस कोविड काल में मुख्य चुनाव आयुक्त सुषोल चंद्रा ने कोविड गाइड पालना के साथ पंजाब, मणिपुर, गोवा, उतराखंड एवं उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों के विधान सभा चुनाव 7 चरणों में होने की घोषणा कर दी। जहां उत्तर प्रदेश की कुल 403 विधान सभा सीटों में से 14 जनवरी नामांकन के साथ 10 फरवरी को 58 सीटों के लिये प्रथम चरण, 21 जनवरी को नामांकन के साथ 55 सीटों के लिये 14 फरवरी को दूसरे चरण, 25 जनवरी को नामांकन के साथ 59 सीटों के लिये 20 फरवरी को तीसरे चरण, 27 जनवरी नामांकन के साथ 60 सीटों के लिये 23 फरवरी को चैथे चरण, 1 फरवरी नामांकन के साथ 60 सीटों के लिये 27 फरवरी को पांचवें चरण, 4 फरवरी नामांकन के साथ 57 सीटों के लिये 3 मार्च को छठे चरण एवं 10 फरवरी नामांकन के साथ 54 सीटों के लिये 7 मार्च को सातवें चरण तथा मणिपुर राज्य की 60 सीटों के लिये 27 फरवरी , 3 मार्च को दो चरणों में, उतराखंड की 70, पंजाब की 117 एवं गोवा की 40 सीटों के लिये 14 फरवरी को चुनाव होने की घोषणा की। इस प्रक्रिया में मुख्य चुनाव आयुक्त ने कोविड काल को देखते हुये पहली बार 14 जनवरी तक चुनाव रैली, पद यात्रा, रथ यात्रा, साइकिल यात्रा, सड़क,नुक्कड़ आदि पर रैली आयोजन करने की प्रक्रिया पर रोक लगाने एवं चुनाव उपरान्त विजय जुलूस पर पाबंदी के साथ 15 जनवरी को फिर से समीक्षा किये जाने की बात करते हुये हर एक से चुनाव दौरान कोरोना गाइड पालना के साथ डिजिटल चुनाव प्रचार करने की सलाह दी। चुनाव दौरान कोरोना का प्रतिकूल प्रभाव न पड़े, इसके लिये चुनाव आयुक्त ने सभी पोलिंग बुथों को सैनेटाइज करने, डबल वैक्सीनेट कर्मचरियों को बुस्टर डोज लगाने के साथ चुनाव डयूटी पर लगाने एवं हर बुथ पर माक्स, ग्लॉब्स, सैनेटाइजर उपलबध कराने की व्यवस्था किये जाने की बात की। साथ ही कोरोना संक्रमितों के लिये पोस्टल बैलेट से मतदान में भाग लेने की पहली बार व्यवस्था की जा रही है। इस तरह चुनाव आयुक्त ने कोविड काल में चुनाव दौरान कोरोना गाइड लाइन की चर्चा कर जागरूकता का परिचय देते हुये चुनाव घोषणा का शखनाद किया। जिसका सभी राजनीतिक दलों ने स्वागत किया।
कोविड काल में चुनाव घोषणा का स्वागत करते हुए कुछ ने इस काल में चुनाव टालने की सलाह भी दी । वासपा प्रमुख मायावती ने चुनाव आचार संहिता का पालन करने की वकालत करते हुये चुनाव घोषणा का स्वागत किया। सपा प्रमुख अखिलेष यादव ने ने चुनाव प्रचार में सोषल मीडिया की भागीदारी सभी राजनीतिक दलों के लिये एक सा रखे जाने की बात करते हुये चुनाव घोषणा का स्वागत किया। उ. प्र. के मुख्यमंत्री ने चुनाव को लोकतंत्र उत्सव बताते हुये चुनाव दौरान कोरोना गाइड पालना के साथ चुनाव आयोग को हर तरह से सहयोग करने की बात की। पूरे चुनाव दौरान रैली, पदयात्रा, आम जन सभा पर रोक लगाये जाने की भी मांग चुनाव आयोग से की गई।
समय पर चुनाव हो, यहीं लोकतंत्र है। चुनाव कोविड काल में होने जा रहा है , चिंताजनक अवश्य है । पर यदि सभी राजनीतिक दल चुनाव आयोग की सलाह पर कोरोना गाइड पालना के साथ चुनावी प्रक्रिया में सहभागिता निभाएं तो लोकतंत्र का यह उत्सव सही ढंग से कोरोना का प्रतिकूल प्रभाव पड़े बिना सम्पन्न हो सकता है। इस दिषा में किसी तरह की राजनीति नहीं होनी चाहिए। सभी राजनीतिक दलों को कोविड काल में चुनाव आयोग की मार्गदर्षिता में कोरोना गाइड की पालना के साथ चुनावी प्रक्रिया में भाग लेना चाहिए।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

ईरान ने भारतीय कंपनियों को गैस क्षेत्र में 30 प्रतिशत हिस्सेदारी की पेशकश की

नई दिल्ली, 25 सितंबर (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। ईरान ने ओएनजीसी विदेश लि. (ओवीएल) और उसके …