Home व्यापार कोरोना महामारी के बाद भारत की अर्थव्यवस्था फिर से गति पकड़ रही हैरू प्रधानमंत्री
व्यापार - March 8, 2022

कोरोना महामारी के बाद भारत की अर्थव्यवस्था फिर से गति पकड़ रही हैरू प्रधानमंत्री

नई दिल्लीए 08 मार्च (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि कोरोना महामारी के बाद भारत की अर्थव्यवस्था फिर से गति पकड़ रही है और यह आर्थिक क्षेत्र में सरकार के फैसलों और देश की अर्थव्यवस्था की मजबूत बुनियाद का प्रतिबिम्ब है।

ष्ष्विकास और आकांक्षी अर्थव्यवस्था के लिए वित्तपोषणष्ष् विषय पर आयोजित एक वेबिनार को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार के आम बजट में तेज गति से विकास को जारी रखने के लिए अनेक उठाए हैं।

उन्होंने कहाए ष्ष्सौ साल में आई सबसे बड़ी महामारी के बीच भारत की अर्थव्यवस्था फिर से गति पकड़ रही है। यह हमारे आर्थिक फैसलों और हमारी अर्थव्यवस्था की मजबूत बुनियाद का प्रतिबिंब है।ष्ष्

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार के बजट में सरकार ने तेज विकास की इस गति को जारी रखने के लिए अनेक कदम उठाए हैं।

उन्होंने कहाए ष्ष्विदेशी पूंजी प्रवाह को प्रोत्साहित करकेए अवसंरचना निवेश पर कर कम करकेए राष्ट्रीय अवसंरचना और निवेश कोष ;एनआईआईएफद्धए गिफ्ट सिटी और नए वित्तीय विकास संस्थान ;डीएफआईद्ध जैसे संस्थान बनाकर हमने वित्तीय और आर्थिक विकास को तेज गति देने का प्रयास किया है।ष्ष्

प्रधानमंत्री ने कहा कि वित्त में डिजिटल प्रौद्योगिकी के व्यापक उपयोग को लेकर देश की प्रतिबद्धता अब अगले स्तर पर पहुंच रही है और इस कड़ी में 75 जिलों में 75 डिजिटल बैंकिंग इकाइयों की स्थापना और सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी सरकार के दृष्टिकोण को प्रदर्षित करते हैं।

उन्होंने कहा कि 21वीं सदी के भारत की प्रगति को तेज गति देने के लिए देश की जो प्राथमिकता है उसमें वित्तीय संस्थानों की भागीदारी अहम है।

ष्ष्आत्मनिर्भर भारत अभियानष्ष् का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे देश की निर्भरता दूसरे देशों पर कम से कम हो और इससे जुड़ी परियोजनाओं के वित्तपोषण के क्या अलग मॉडल बनाए जा सकते हैंए इस बारे में मंथन आवश्यक है।

ड्रोनए अंतरिक्ष और जियो स्पेशल क्षेत्र में लिए गए सरकार के निर्णयों को ष्ष्गेम चेंजरष्ष् करार देते हुए प्रधानमंत्री ने आह्वान किया कि इन क्षेत्रों में भी अब भारत को दुनिया के शीर्ष तीन देशों में जगह बनाने के लिए काम करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

कच्चा तेल 84 डॉलर प्रति बैरल के करीब, पेट्रोल-डीजल की कीमत स्थिर

नई दिल्ली, 15 मई (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों मे…