Home देश-दुनिया झूठे विज्ञापनों के बजाय चिकित्सा सेवा पर खर्च करते तो बेहतर होता : अखिलेश

झूठे विज्ञापनों के बजाय चिकित्सा सेवा पर खर्च करते तो बेहतर होता : अखिलेश

लखनऊ, 05 अप्रैल (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। बलिया में बीमार महिला को ठेले में अस्पताल ले जाने संबंधी वायरल वीडियो को लेकर समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर निशाना साधते हुये कहा कि झूठे विज्ञापनों पर खर्च करने के बजाय चिकित्सा सेवाओं पर खर्च किया जाता तो गरीब बीमार लोगों की जान बचायी जा सकती है।
श्री यादव ने मंगलवार को ट्वीट किया “उप्र में चिकित्सा की झूठी उपलब्धि के झूठे विज्ञापनों में जितना खर्च किया जाता है, उसका थोड़ा-सा हिस्सा भी अगर सपा के समय सुधरी चिकित्सा सेवाओं पर लगातार खर्च किया जाता रहा होता तो आज भाजपा के राज में स्ट्रेचर व एम्बुलेन्स के अभाव में लोगों की जो जान जा रही है वो बचाई जा सकती थी।”
गौरतलब है कि बलिया के चिलकहर में बुजुर्ग सुकुल प्रजापति अपनी बीमार पत्नी जाेनिया देवी को ठेले में अस्पताल ले गया था जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। वायरल वीडियो को संज्ञान में लेते हुये उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य को मामले के जांच के आदेश दिए थे। साथ ही दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने के भी आदेश दिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

दिल्ली जल संकट : आतिशी आज दोपहर से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करेंगी

नई दिल्ली, 21 जून (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। दिल्ली सरकार की जल मंत्री आतिशी हरियाणा से प्…