Home देश-दुनिया महाराष्ट्र: पेशेवर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए 12वीं कक्षा, सीईटी के अंकों को मिलेगा बराबर महत्व

महाराष्ट्र: पेशेवर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए 12वीं कक्षा, सीईटी के अंकों को मिलेगा बराबर महत्व

पुणे (महाराष्ट्र), 01 जून (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। महाराष्ट्र के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने कहा है कि राज्य में अगले शैक्षणिक वर्ष से स्नातक पेशेवर और तकनीकी पाठ्यक्रमों के लिए मेधा सूची घोषित करते समय 12वीं कक्षा और सामान्य प्रवेश परीक्षा (सीईटी) में छात्रों के अंकों को बराबर का महत्व दिया जाएगा। मंत्री ने पुणे में मंगलवार को पत्रकारों से कहा कि नई प्रणाली इस साल से नहीं, बल्कि अगले शैक्षणिक वर्ष 2023-24 से लागू की जाएगी। वर्तमान में, इंजीनियरिंग, कानून और अन्य पाठ्यक्रमों में दाखिले सीईटी के अंकों के आधार पर होते हैं। सामंत ने पुणे में विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि नई प्रणाली के तहत पेशेवर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए केवल सीईटी अंकों पर विचार नहीं किया जाएगा। सामंत ने कहा, ‘‘मौजूदा प्रणाली को ध्यान में रखते हुए छात्र केवल सीईटी पर ध्यान केंद्रित करते हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ विचार-विमर्श करने के बाद 12वीं कक्षा और सीईटी में मिले अंकों को बराबर का महत्व देने का फैसला किया गया है। इससे छात्रों को 12वीं कक्षा की पढ़ाई के साथ एक अच्छा आधार बनाने में मदद मिलेगी।’’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

सिख धर्म सिखाता है कि एक परिवार के रूप में मनुष्य एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं: अमेरिकी नेता

वाशिंगटन, 11 अप्रैल (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। न्यूयॉर्क के एक प्रभावशाली नेता ने वैसाखी स…