Home देश-दुनिया कोविड-19 टीका प्रमाण-पत्र में हुई गलतियां अब अनलॉइन सुधारी जा सकेंगी

कोविड-19 टीका प्रमाण-पत्र में हुई गलतियां अब अनलॉइन सुधारी जा सकेंगी

नई दिल्ली, 09 जून (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। टीका लाभार्थी अपने कोविड-19 टीकाकरण प्रमाण-पत्र में हुई गलतियों को कोविन पोर्टल पर अब खुद ही ठीक कर सकते हैं। सरकार ने एक नये अपडेट की घोषणा की है जो आवेदक को टीकाकरण प्रमाण-पत्र में मुद्रित नाम, जन्मतिथि और लिंग में अनजाने में हुई गलती को सुधारने की सुविधा देगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव विकास शील ने बुधवार को बताया कि उपयोगकर्ता कोविन वेबसाइट के जरिए यह सुधार कर सकते हैं। आरोग्य सेतु ऐप के आधिकारिक हैंडल पर एक ट्वीट किया गया, “अगर कोविन टीकाकरण प्रमाण-पत्रों में अनजाने में आपके नाम में, जन्मतिथि में और लिंग में कोई त्रुटि हुई है तो आप उन्हें ठीक कर सकते हैं। कोविन की वेबसाइटट पर जाएं और इस संबंध में अपनी समस्या बताएं।” कोविड टीकाकरण प्रमाण-पत्र यात्रा के वक्त और कई अन्य परिसरों तक जाने-आने में मदद करते हैं। इससे पहले, सरकार ने टीका लगवा चुके लोगों को स्व-मूल्यांकन प्रक्रिया के माध्यम से आरोग्य सेतु ऐप पर अपनी स्थिति स्वेच्छा से अपडेट करने की भी अनुमति दी थी। जिन लोगों को टीके की एक खुराक लगी है उन्हें अपने होम स्क्रीन पर टीकाकरण स्थिति के समक्ष नीले रंग का एक टिक दिखाई देगा और दोनों खुराकें ले चुके लोगों को ऐप पर 14 दिन बाद नीले रंग के दो टिक दिखाई देंगे। यह दोनों टिक कोविन पोर्टल से टीकाकरण की स्थिति के सत्यापन के बाद नजर आएंगे। टीकाकरण की स्थिति को कोविन पर पंजीकरण के लिए इस्तेमाल किए गए मोबाइल नंबर के जरिए अद्यतन किया जा सकता है। राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक कोविड-19 की कुल 23,90,58,360 खुराकें दी जा चुकी हैं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

शी चिनफिंग ने हांगकांग के लिए ‘‘एक देश, दो प्रणाली’’ नीति का किया बचाव

हांगकांग, 01 जुलाई (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने हांगकांग के लि…