Home खेल कोहली के लिये विश्व कप जीतना चाहेगी भारतीय टीम : सहवाग
खेल - June 28, 2023

कोहली के लिये विश्व कप जीतना चाहेगी भारतीय टीम : सहवाग

मुंबई, 27 जून (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का मानना है कि भारत को 2011 की विश्व कप सफलता को दोहराने और विराट कोहली के लिये एकदिवसीय विश्व कप 2023 जीतने का लक्ष्य रखना चाहिए।
भारत 2011 में मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में श्रीलंका के खिलाफ फाइनल जीतकर चैंपियन बना था। सचिन तेंदुलकर के आखिरी विश्व कप में भारतीय टीम ने खिताब जीतने के लिये अपना सब कुछ झोंक दिया था। सहवाग को उम्मीद है कि भारतीय टीम इस बार कोहली के लिये ऐसा कर सकेगी।
विश्व विजेता भारतीय टीम का हिस्सा रहे सहवाग ने यहां विश्व कप कार्यक्रम की घोषणा के अवसर पर कहा, “हमने वह विश्व कप तेंदुलकर के लिये खेला था। अगर हम विश्व कप जीतते, तो सचिन पाजी का आखिरी विश्व कप यादगार होता। विराट कोहली अब भी वैसे ही हैं। हर कोई उनके लिये विश्व कप जीतना चाहेगा। वह हमेशा 100 प्रतिशत से अधिक देता है।”
सहवाग ने कहा, “मुझे लगता है कि विराट कोहली भी इस विश्व कप पर ध्यान दे रहे हैं। अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में एक लाख लोग आपको देखेंगे। विराट को पता है कि (भारत में) पिचें कैसी होंगी। मुझे यकीन है कि वह बहुत सारे रन बनाएंगे और भारत के लिए विश्व कप जीतने के लिये अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे।”
टूर्नामेंट के सबसे प्रतीक्षित मुकाबलों में से एक 15 अक्टूबर को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम पर भारत और पाकिस्तान के बीच खेला जायेगा। सहवाग ने कहा कि टूर्नामेंट में वह इस खेल को लेकर सबसे ज्यादा उत्साहित हैं।
सहवाग ने कहा, “हर कोई भारत-पाकिस्तान मैच का इंतजार करना चाहता है। मैं भी कर रहा हूं।” जब सहवाग से पूछा गया कि भारत-पाक मुकाबले में विजेता कौन होगा, तो उन्होंने कहा, “मैं नहीं जानता कि उस दिन क्या होगा, लेकिन जो टीम दबाव को अच्छी तरह से संभाल लेगी वह जीत जाएगी।”
उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि अब भारत दबाव को बेहतर संभालता है, इसलिए वह जीतता है। पाकिस्तान पर यह बोझ है कि वह भारत के खिलाफ नहीं जीत पाया है। पाकिस्तान 1990 के दशक में दबाव से निपटने में अच्छा था लेकिन 2000 के बाद भारत ने इसे बेहतर तरीके से झेला। अगर कोई खिलाड़ी कहता है कि उन्हें दबाव महसूस नहीं होता है, तो मुझे नहीं लगता कि यह सही है। हम भी ऐसा कहते थे लेकिन अंत में आज, हम जानते हैं कि यह भारत बनाम पाकिस्तान का खेल है और भावनाएं चरम पर होती हैं।”
सहवाग का यह भी मानना है कि मौजूदा चैंपियन इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के साथ भारत और पाकिस्तान सेमीफाइनल के लिये क्वालीफाई करने वाली चार टीमों में शामिल होंगी। सेमीफाइनल के बारे में अपनी भविष्यवाणी करते हुए सहवाग ने कहा, “यदि मुझे चार टीमें चुननी हों तो मैं ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, भारत और पाकिस्तान को चुनूंगा। ये मेरे सेमीफाइनलिस्ट हैं।”

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

सिख धर्म सिखाता है कि एक परिवार के रूप में मनुष्य एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं: अमेरिकी नेता

वाशिंगटन, 11 अप्रैल (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। न्यूयॉर्क के एक प्रभावशाली नेता ने वैसाखी स…