Home अंतरराष्ट्रीय अफगान दुभाषियों के लिए प्रवेश प्रक्रिया आसान बनाने के लिए अमेरिकी सदन में हुआ मतदान

अफगान दुभाषियों के लिए प्रवेश प्रक्रिया आसान बनाने के लिए अमेरिकी सदन में हुआ मतदान

वाशिंगटन, 30 जून (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को एक विधेयक को आसानी से पारित किया जो नाटो या अमेरिकी सेना के लिए काम कर चुके अफगानिस्तान के नागरिकों के लिए अमेरिका आना आसान बनाएगा।

विधेयक के तहत, पूर्व दुभाषियों, वाहन चालकों और युद्ध प्रयास को समर्थन देने वाले अन्य लोगों को विशेष आव्रजन वीजा की आवेदन प्रक्रिया के तहत अफगानिस्तान में चिकित्सीय जांच कराने की जरूरत नहीं होगी। इसके बजाय उन्हें अमेरिका में आगमन के 30 दिनों के भीतर यह जांच करानी होगी।

अफगानों को काबुल में एकमात्र क्लिनिक में जांच करानी होती थी। आलोचकों का कहना है कि यह कोविड-19 प्रकोप के दौरान और पहले से कठिन प्रक्रिया में अनावश्यक बाधा है, जो देश से अमेरिकी एवं नाटो सैनिकों की आसन्न वापसी और तालिबान के साथ जंग में मदद करने वालों के सामने आ रहे खतरों के साथ और जटिल हो गई है।

डेमोक्रेटिक सांसद जेसन क्रो ने कहा, ‘‘हम धीमी नौकरशाही को हमारे लोगों के साथ सेवा देने वाले अफगानों की जिंदगियों की कीमत चुकाने की इजाजत नहीं दे सकते हैं।”

विधेयक को द्विपक्षीय समर्थन मिला और इसके पक्ष में 366 और विरोध में 46 मत पड़े। यह अब सीनेट में भेजा जाएगा।

सदन में इस हफ्ते की शुरुआत में विशेष विधेयक पर मतदान होगा जो विशेष आव्रजक वीजा की संख्या 8,000 तक बढ़ा देगा और कार्यक्रम के लिए कुछ अन्य शर्तों को आसान बनाएगा।

राष्ट्रपति जो बाइडन ने पिछले हफ्ते कहा था कि प्रशासन अमेरिकी सेना के लिए अपने परिवारों के साथ काम करने वाले हजारों लोगों को निकालेगा लेकिन उन्होंने ब्योरे उपलब्ध नहीं कराए।

अमेरिका ने अफगानों के लिए 2009 में विशेष आव्रजक वीजा कार्यक्रम बनाया था। करीब 18,000 आवेदन लंबित हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

आम जनता के मौलिक अधिकारों की रक्षा करने का दायित्व न्यायपालिका का

-सनत कुमार जैन- -: ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस :- उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने दिल्ली में आयोजि…