Home अंतरराष्ट्रीय हैती: राष्ट्रपति की हत्या के मामले में संदिग्ध चार लोग ढेर, दो गिरफ्तार

हैती: राष्ट्रपति की हत्या के मामले में संदिग्ध चार लोग ढेर, दो गिरफ्तार

पोर्ट-ऑ-प्रिंस (हैती), 08 जुलाई (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। राष्ट्रपति जोवेनेल मोइसे की उनके निजी आवास में मंगलवार देर रात को हुई हत्या के मामले में पुलिस ने चार संदिग्ध लोगों को मार गिराया है जबकि दो अन्य को गिरफ्तार किया गया है। इस घटना से बेहद गरीब इस देश में हालात और खराब होने का अंदेशा है।

हैती के राष्ट्रीय पुलिस बल के प्रमुख लेओन चार्ल्स ने बताया कि संदिग्ध बंदूकधारियों ने तीन पुलिस अधिकारियों को बंधक बना लिया था जिन्हें बुधवार रात तक मुक्त कराया गया।

मोइसे की हत्या देश में गहराते राजनीतिक एवं आर्थिक संकट तथा गिरोह हिंसा बढ़ जाने के बीच हुई। मोइसे के अधिकारवादी शासन से देश में निरंतर अस्थिरता एवं गुस्सा बढ़ रहा था। इस हमले में मोइसे की पत्नी एवं प्रथम महिला मार्टिनी मोइसे को भी गोली लगी थी, जिनका इलाज चल रहा है।

अंतरिम प्रधानमंत्री क्लॉड जोसेफ ने कहा कि सुरक्षा का जिम्मा पुलिस और सेना दोनों के हाथों में है। अमेरिका महाद्वीप के इस सबसे गरीब देश में तानाशाही का इतिहास रहा है और राजनीतिक उथल-पुथल लोकतांत्रिक शासन कायम करने में बाधा बनी है।

जोसेफ ने एसोसिएटेड प्रेस को दिए साक्षात्कार में राष्ट्रपति की हत्या की अंतरराष्ट्रीय स्तर की जांच की मांग की। उन्होंने कहा कि इस वर्ष के अंत में निर्धारित चुनाव अपने तय समय पर होने चाहिए। अधिकारियों ने देश में एक तरह से ‘‘आपात स्थिति’’ की घोषणा कर दी है और अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा बंद कर दिया है।

अमेरिका में हैती के राजदूत बूचित एडमंड ने कहा कि 53 वर्षीय मोइसे की हत्या को विदेशी आतंकवादियों और पेशेवर हत्यारों ने सोची समझी साजिश के तहत अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि हमलावर अमेरिकी औषध प्रवर्तन एवं प्रशासन (डीईए) के एजेंट बनकर आए थे। अमेरिकी दूतावास ने बताया कि डीईए का हैती की राजधानी में कार्यालय है।

जोसेफ ने एक बयान में कहा कि कुछ हमलावर स्पेनिश में बात कर रहे थे, लेकिन उन्होंने आगे कोई जानकारी नहीं दी।

एडमंड ने वाशिंगटन में बताया कि मोइसे की पत्नी प्रथम महिला की हालत स्थिर लेकिन नाजुक बनी हुई है और उन्हें उपचार के लिए मियामी ले जाया गया है। उन्होंने बताया कि हैती ने घटना की जांच करने के लिए अमेरिकी सरकार की मदद मांगी है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

‘गाजा में बड़ी संख्या में फिलिस्तीनियों का मारा जान चिंताजनक’

जिनेवा, 12 अगस्त (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचे…