Home खेल दबाव में खेलने का लुत्फ उठा रही हूं: दीप्ति
खेल - July 12, 2021

दबाव में खेलने का लुत्फ उठा रही हूं: दीप्ति

होव, 12 जुलाई (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। भारतीय महिला टीम की इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में जीत की सूत्रधार रही प्रतिभाशाली आलराउंडर दीप्ति शर्मा ने कहा कि अब वह मैच की परिस्थितियों से बेहतर ढंग से निबट रही है और दबाव में खेलने का आनंद उठा रही है।

इंग्लैंड सलामी बल्लेबाज टैमी ब्यूमोंट (59) और कप्तान हीथर नाइट (30) की पारियों से जीत की तरफ बढ़ रहा था लेकिन 14वें ओवर में दीप्ति ने यह साझेदारी तोड़ी जिससे भारत वापसी करने में सफल रहा।

दीप्ति ने भारत की आठ रन से जीत के बाद वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मुझे दबाव की परिस्थितियों खेलना पसंद है, चाहे बल्लेबाजी हो, गेंदबाजी या क्षेत्ररक्षण। मैं अपने विभाग में योगदान देकर टीम को आगे बढ़ाना चाहती हूं। ‘‘

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे आगे बढ़कर नेतृत्व करना पसंद है जैसे कि घरेलू टूर्नामेंटों में जब मैं सीनियर खिलाड़ी के रूप में खेलती हूं और टीम के लिये मैच जीतती हूं। इससे अलग तरह का विश्वास पैदा होता है। ‘‘

उन्होंने कहा, ‘‘जब आप उस विश्वास के साथ यहां खेलने के लिये उतरते हो, निश्चित तौर पर यह मंच आसान नहीं है लेकिन यह इस पर निर्भर करता है कि आप इससे कैसे पार पाते हो। मैं अब परिस्थितियों का आकलन करना और उनसे निबटना जानती हूं। इसलिए मुझे अब खेलना आसान लगता है क्योंकि मैं चीजों से आसानी से निबट सकती हूं। ‘‘

दीप्ति ने 14वें ओवर में ब्यूमोंट को पगबाधा आउट किया और फिर नाइट को रन आउट करके इंग्लैंड को संकट में डाल दिया। इंग्लैंड को तब जीत के लिये 36 गेंदों पर 43 रन चाहिए थे लेकिन इसके बाद भारतीय स्पिनरों ने शिकंजा कस दिया।

उन्होंने कहा, ‘‘यह महत्वपूर्ण ओवर और अहम विकेट था। इससे पहले भी हमने डीआरएस लिया था लेकिन भाग्य ने हमारा साथ नहीं दिया। इस बार जब मैंने गेंद की तो यह अंपायर का फैसला था और गेंद स्टंप पर लग रही थी। इससे हमारा काफी मनोबल बढ़ा। इसके बाद रन आउट से हमें मैच में वापसी करने में मदद मिली। ‘‘

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

‘गाजा में बड़ी संख्या में फिलिस्तीनियों का मारा जान चिंताजनक’

जिनेवा, 12 अगस्त (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचे…