Home देश-दुनिया ‘दही हांडी’ उत्सव मनाने के लिए मनसे कार्यकर्ताओं ने पाबंदियों को रखा ताक पर

‘दही हांडी’ उत्सव मनाने के लिए मनसे कार्यकर्ताओं ने पाबंदियों को रखा ताक पर

मुंबई, 31 अगस्त (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के कार्यकर्ताओं ने कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सार्वजनिक रूप से पर्व-त्योहार मनाने पर लगी पाबंदियों का उल्लंघन करते हुए ठाणे और पालघर जिले में ‘दही हांडी’ का त्योहार धूमधाम से मनाया। सोमवार को आधी रात के करीब मनसे कार्यकर्ता यहां के नौपाड़ा में एकत्र हुए और उन्होंने एक जगह ऊंचाई पर ‘दही हांडी’(दही से भरी मटकी) टांग दी। इसके बाद लोग परामिड बनाते हुए एक-दूसरे पर खड़े हुए और सबसे ऊपर खड़ी महिला कार्यकर्ता ने मटकी फोड़ी। एक अधिकारी ने बताया कि शहर की पुलिस ने कोविड-19 पाबंदियां तोड़ने के आरोप में पार्टी के पांच कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। इसके पहले पुलिस के रोकने पर कार्यकर्ताओं ने उनसे बहस भी की। मनसे के ठाणे-पालघर इकाई के प्रमुख अविनाश जाधव को दही हांडी समारोह करने की अनुमति देने की मांग को लेकर प्रदर्शन करने पर कल दिन में गिरफ्तार किया गया था और बाद में रिहा कर दिया गया था। वह भी देर रात आयोजित कार्यक्रम में मौजूद थे। पार्टी के अनेक कार्यकर्ताओं ने सोमवार देर रात ठाणे के वर्तक नगर और पालघर जिले के नाला सोपारा इलाके में भी इसी तरह के कार्यक्रम आयोजित किए। जाधव ने संवाददाताओं से कहा कि शिवसेना हिंदू वोट हासिल करके सत्ता में आई है, लेकिन उसने कार्यक्रमों पर रोक लगाकर समुदाय को धोखा दिया है। उन्होंने कहा कि पाबंदियों के बावजूद वे त्योहार मनाएंगे। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पिछले हफ्ते दही हांडी कार्यक्रम के आयोजकों से कहा था कि राज्य को कोरोना वायरस के संक्रमण से पूरी तरह छुटकारा मिलने तक, कुछ समय के लिए उत्सवों का आयोजन न कर एक मिसाल कायम करनी चाहिए। उन्होंने कहा था कि महामारी के दौरान नागरिकों के स्वास्थ्य को प्राथमिकता दी जानी चाहिए।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

‘गाजा में बड़ी संख्या में फिलिस्तीनियों का मारा जान चिंताजनक’

जिनेवा, 12 अगस्त (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचे…