Home खेल ..जब बांग्लादेश को जिम्बाब्वे के खिलाफ आखिरी गेंद दुबारा फेंकनी पड़ी
खेल - October 31, 2022

..जब बांग्लादेश को जिम्बाब्वे के खिलाफ आखिरी गेंद दुबारा फेंकनी पड़ी

ब्रिस्बेन, 30 अक्टूबर (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। टी20 विश्व कप सुपर-12 मैच में रविवार को जिम्बाब्वे के खिलाफ बांग्लादेश की तीन रनों की रोमांचक जीत का सबसे रोमांचक क्षण तब आया जब शाकिब अल हसन के खिलाड़ियों ने अंतिम गेंद को फिर से डाला। उनके विकेटकीपर नुरूल हसन ने गेंद को स्टंप्स के आगे पकड़ा, जिससे वह गेंद नो बॉल करार दी गई।

बांग्लादेश ने मैच की आखिरी गेंद पर जीत हासिल करते हुए रविवार को टूर्नामेंट के अंतिम चार चरण में पहुंचने की उनकी संभावना को बढ़ा दिया। बांग्लादेश ने अपने निर्धारित 20 ओवरों में 150/7 स्कोर बनाया, जबकि जिम्बाब्वे 147/8 रन ही बना सका।

हालांकि, मैच की आखिरी गेंद पर ब्लेसिंग मुजरबानी के स्ट्राइक पर और आफ स्पिनर मोसादेक हुसैन की गेंद पर चार रन की जरूरत के साथ काफी भ्रम और चिंता पैदा हो गई। टीम में सभी ने सोचा था कि हुसैन ने लगातार गेंदों पर बैक-टू-बैक विकेट लिए थे, लेकिन नूरुल हसन ने संयोग से गेंद को स्टंप के आगे पकड़ लिया और खिलाड़ियों को अंतिम गेंद को फिर से खेलने के लिए मैदान पर वापस बुला लिया गया।

हुसैन ने गेंद को फिर से डाला और मुजरबानी ने उसे डॉट खेल दिया, जिससे बांग्लादेश को जीत मिली। क्रिकेट के एमसीसी कानूनों पर एक नजर डालने से पता चलता है कि अंपायरों ने अंतिम चरण के दौरान सही कॉल किया और खिलाड़ियों को अंतिम गेंद को फिर से खेलने के लिए बुलाया। जांच से पता लग रहा था कि नूरुल हसन ने हुसैन के ओवर की अंतिम गेंद पर मुजरबानी की स्पष्ट स्टंपिंग पूरी कर बांग्लादेश की जीत पर मुहर लगा दी थी।

लेकिन टीवी अंपायर क्रिस गैफनी ने स्टंपिंग की जांच करने के लिए कहा, कीवी अधिकारी ने पाया कि हसन ने वास्तव में गेंद को स्टंप्स से आगे से पकड़ा था और उत्तेजना में स्टंप्स को भी गिरा दिया था, जिससे वह नो बॉल हो गई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

कच्चा तेल 84 डॉलर प्रति बैरल के करीब, पेट्रोल-डीजल की कीमत स्थिर

नई दिल्ली, 15 मई (ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस)। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों मे…