Home अंतरराष्ट्रीय अफगान बलों ने कुंदुज में जवाबी हमला किया

अफगान बलों ने कुंदुज में जवाबी हमला किया

काबुल, 09 अगस्त (ऐजेंसी/अशोक एक्सप्रेस)। अफगानिस्तान में और ज्यादा शहरों पर कब्जा करने की तालिबान की कोशिशों के बीच रक्षा मंत्रालय ने रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण कुंदुज शहर से आगे बढ़ रहे आतंकवादियों को खदेड़ने के लिए जवाबी कार्रवाई शुरू की है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, मंत्रालय के प्रवक्ता फवाद अमन ने रविवार को कहा कि विशेष बल की इकाइयां कुंदुज में आतंकवादियों से शहर को खाली करवाने के लिए लड़ रही हैं।

तालिबान आतंकवादी रविवार तड़के ताजिकिस्तान की सीमा से लगे उत्तरी कुंदुज प्रांत की राजधानी कुंदुज शहर के प्रमुख हिस्सों में अचानक घुस गए, जिससे सैकड़ों परिवारों को अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर जाना पड़ा।

हालांकि कुंदुज के पुलिस प्रमुख जबरदस्त सफी ने कुंदुज में तालिबान के प्रभाव को कम करके आंका और कहा कि सुरक्षा बल विद्रोहियों को खदेड़ देंगे, स्थानीय लोगों का कहना है कि लड़ाई जारी है और आतंकवादियों ने शहर के बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया है।

कुंदुज अस्पताल के प्रमुख एहसानुल्ला फैजी ने सिन्हुआ को बताया कि शनिवार से एक दर्जन शवों और 60 घायल नागरिकों को अस्पताल ले जाया गया है।

तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने दावा किया है कि आतंकवादियों ने प्रांतीय गवर्नर कार्यालय सहित कुंदुज शहर पर कब्जा कर लिया है।

पिछले तीन महीनों में लगभग 200 जिलों पर कब्जा करने के बाद, सशस्त्र संगठन ने पिछले कुछ दिनों में पश्चिम में निमरोज प्रांतीय राजधानी जरंज और उत्तर में जावजान प्रांत की राजधानी शिबरघन शहर पर कब्जा कर लिया है।

तालिबान आतंकवादी पश्चिमी हेरात की राजधानी हेरात शहर और बदख्शां प्रांत की राजधानी फैजाबाद शहर पर भी दबाव बढ़ा रहे हैं।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने जोर देकर कहा है कि फैजाबाद और हेरात में जमीन हासिल करने के तालिबान के प्रयासों को विफल कर दिया गया है।

तालिबान के नेतृत्व वाली गतिविधियों ने पूर्वी खोस्त और पड़ोसी पक्तिया प्रांतों में 10 नागरिकों सहित कई लोगों की जान ले ली है।

संघर्षों की पुष्टि करते हुए, अमन ने कहा कि पिछले 24 घंटों में कुंदुज, कंधार, निमरूज, तखर, गजनी, पक्तिया, हेरात, नंगरहार, लगमन, फराह, जवज्जान, सरी पुल, फरयाब और बदख्शां प्रांतों में 570 से ज्यादा तालिबान लड़ाके मारे गए हैं और 300 से अधिक घायल हुए हैं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

थायराइड भी हो सकता है थकान का कारण

-: ऐजेंसी/अशोका एक्स्प्रेस :- क्या आपके साथ भी एसे होता है कि आप सारा दिन काम करते करते इत…